स्टॉक  मार्केट  क्या  है।(introduction of stock market)

स्टॉक  मार्केट  क्या  है।

Stock Market Introduction for Beginners  स्टॉक  मार्केट,  वह इंस्टिट्यूट या संस्था है| जहाँ पर किसी भी देश की महत्वपूर्ण कंपनी अपने उद्योग को बढ़ाने के लिए पैसा एकत्रित करती है| तथा उस पैसे का उपयोग अपने उद्योग को आगे बढ़ाने के लिए करती  है।

भारतीय स्टॉक मार्केट
भारतीय स्टॉक मार्केट मैं मुख्य रूप से दो संस्थाएं काम कर रही है
1. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE)
2.नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE)

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज की  स्थापना 1875 मैं हुई अतः यह भारत का सबसे पुराना स्टॉक एक्सचेंज है| वर्तमान समय मैं BSE  मैं लगभग 5500+ कम्पनी  लिस्ट है

सेबी (SEBI) द्वारा किसी भी कंपनी को BSE या NSE  मैं , लिस्ट  होने  के  लिए  मान्यता लेनी पड़ती है| अर्थात सेबी एक रेगुलेटरी  संस्था है।

stock market today

शेयर मार्केट के प्रति गलत धारणा। Stock Market Introduction for Beginners

भारत मैं शेयर मार्केट के प्रति गलत धारणा प्रत्येक नागरिक मैं बनी हुई है| अतः कई नागरिक द्वारा शेयर मार्केट को एक जुआ का स्थान माना जाता है| और ये भी कहा जाता है की यहाँ बर्बाद हो जाते है।
यह एक मिथ है, चूँकि शेयर मार्केट एक इन्वेस्टमेंट की जगह है| अतः यदि सटीक जानकारी के तहत इन्वेस्टमेंट की जाये तो यह एक बहुत हि महत्वपूर्ण स्थान है| जहाँ से नागरिकों द्वारा अच्छा रिटर्न्स मिल सकता आगे आपको इन्वेस्टिंग के रूल बताये जायेंगे।

गलत धारणा की बजह। Stock Market Introduction for Beginners

शेयर मार्केट मैं शुरुआत मैं जो आता है वह जल्दी से जल्दी पैसा कामना चाहता हि जिससे वह इंट्राडे ट्रेडिंग को महत्व देता है और बिना
के कारण वह लॉस करता जाता है |चूँकि शेयर बाजार मैं इंट्राडे ट्रेडिंग कि सफलता का प्रतिशत मात्र 1% है अतः एक आम नागरिक को जो शुरुआत मैं इंट्री करता है| उसे इंट्राडे ट्रेडिंग नहीं करना चाहिए यह नियम सख़्ती से पालन करना चाहिए। इंट्राडे ट्रेडिंग के अंतर्गत एक ट्रेडर द्वारा एक ट्रेडिंग डे (9:15 AM  से 3:20PM ) के बीच मैं ही खरीदी ओर बिक्री  की  जाती है।
इंट्राडे ट्रेडिंग मैं ट्रेडर को ब्रोकरेज द्वारा लीवरेज दिया जाता है| जो की आपके मुख्य राशि का 15 से 20 गुना होता है।  इस कारण ट्रेडर इंट्राडे करने के लिये ज्यादा कोसिस करता है।

conclusion

भारत देश मैं आज वर्तमान समय मैं बहुत हि कम लोग या इन्वेस्टर है| जो शेयर मार्केट मैं सक्रिय है। अतः आने वाले समय मैं यदि इन्वेस्टर्स की संख्या मैं वृद्धि होती है| तो भारत का विकास बहुत ज्यादा गति से होगा। प्रत्येक भारतीय नागरिक के लिए यह समय इन्वेस्टमेंट के लिये बहुत हि महत्वपूर्ण है| चूँकि, भागीदारी बढ़ने से रिटर्न्स बढ़ने की संभावना अत्यधिक हो जाती है। प्रत्येक नागरिक को अपने इन्वेस्टमेंट के रूप मैं ,एक सटीक रड़नीति के तहत इन्वेस्ट करें और फ्यूचर मैं आर्थिक रूप से आजादी पा सकते है।

stock market introduction in hindi

instapreneur-academy-instagram-millions-guide

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *